Kab Yaad Mein Tera Saath Nahin Lyrics From Anjuman [English Translation]

Kab Yaad Mein Tera Saath Nahin Lyrics: The song ‘Kab Yaad Mein Tera Saath Nahin’ from the Bollywood movie ’Anjuman’ in the voice of Jagjeet Kaur, and Mohammed Zahur Khayyam. The song lyrics was given by Faiz Ahmad Faiz and music is composed by Mohammed Zahur Khayyam. It was released in 1986 on behalf of Saregama.The Music Video Features Farooque Sheikh & Shabana AzmiArtist: Jagjeet Kaur & Mohammed Zahur KhayyamLyrics: Faiz Ahmad FaizComposed: Mohammed Zahur KhayyamMovie/Album: AnjumanLength: 7:10Released: 1986Label: Saregama

Kab Yaad Mein Tera Saath Nahin Lyrics

कब याद में तेरा साथ नहीं
कब याद में तेरा साथ नहीं
कब हाथ में तेरा हाथ नहीं
कब याद में तेरा साथ नहीं
कब हाथ में तेरा हाथ नहीं
सात सुकर के अपने रातो में
सात सुकर के अपने रातो में
अब हिज़र की कोई रात नहीं
सात सुकर के अपने रातो में
अब हिज़र की कोई रात नहींमैं जाने वफ़ा दरबार नहीं
यहाँ मैं सबकी पुछ कहा
मैं जाने वफ़ा दरबार नहीं
यहाँ मैं सबकी पुछ कहा
आशिक़ तो किसी का नाम नहीं
आशिक़ तो किसी का नाम नहीं
कुछ इश्क़ किसी की जात नहीं
आशिक़ तो किसी का नाम नहीं
कुछ इश्क़ किसी की जात नहीं
कब याद में तेरा साथ नहीं
कब हाथ में तेरा हाथ नहींजिस धज से कोई वक़्तल में गया
वो शान सलामत रहती हैं
जिस धज से कोई वक़्तल में गया
वो शान सलामत रहती हैं
ये जान तो अणि जनि हैं
ये जान तो अणि जनि हैं
इस जा की तो कोई बात नहीं
ये जान तो अणि जनि हैं
इस जा की तो कोई बात नहीं
कब याद में तेरा साथ नहीं
कब हाथ में तेरा हाथ नहींअगर बाज़ी इश्क़ की बाज़ी हैं
जो चाहो लगा दो डर कैसा
अगर बाज़ी इश्क़ की बाज़ी हैं
जो चाहो लगा दो डर कैसा
अगर जीत गए तो क्या कहना
अगर जीत गए तो क्या कहना
हारे भी तो बाज़ी मात नहीं
अगर जीत गए तो क्या कहना
हारे भी तो बाज़ी मात नहीं
कब याद में तेरा साथ नहीं
कब हाथ में तेरा हाथ नहीं
सात सुकर के अपने रातो में
अब हिज़र की कोई रात नहीं

Kab Yaad Mein Tera Saath Nahin Lyrics English Translation

कब याद में तेरा साथ नहीं
When I don’t remember you
कब याद में तेरा साथ नहीं
When I don’t remember you
कब हाथ में तेरा हाथ नहीं
when your hand is not in your hand
कब याद में तेरा साथ नहीं
When I don’t remember you
कब हाथ में तेरा हाथ नहीं
when your hand is not in your hand
सात सुकर के अपने रातो में
In my night of seven pleasures
सात सुकर के अपने रातो में
In my night of seven pleasures
अब हिज़र की कोई रात नहीं
no more hijar night
सात सुकर के अपने रातो में
In my night of seven pleasures
अब हिज़र की कोई रात नहीं
no more hijar night
मैं जाने वफ़ा दरबार नहीं
I don’t go to court
यहाँ मैं सबकी पुछ कहा
Here I asked everyone
मैं जाने वफ़ा दरबार नहीं
I don’t go to court
यहाँ मैं सबकी पुछ कहा
Here I asked everyone
आशिक़ तो किसी का नाम नहीं
Aashiq no one’s name
आशिक़ तो किसी का नाम नहीं
Aashiq no one’s name
कुछ इश्क़ किसी की जात नहीं
some love no one
आशिक़ तो किसी का नाम नहीं
Aashiq no one’s name
कुछ इश्क़ किसी की जात नहीं
some love no one
कब याद में तेरा साथ नहीं
When I don’t remember you
कब हाथ में तेरा हाथ नहीं
when your hand is not in your hand
जिस धज से कोई वक़्तल में गया
the way with which one went in time
वो शान सलामत रहती हैं
she is proud
जिस धज से कोई वक़्तल में गया
the way with which one went in time
वो शान सलामत रहती हैं
she is proud
ये जान तो अणि जनि हैं
This life is a multi-born
ये जान तो अणि जनि हैं
This life is a multi-born
इस जा की तो कोई बात नहीं
it doesn’t matter if
ये जान तो अणि जनि हैं
This life is a multi-born
इस जा की तो कोई बात नहीं
it doesn’t matter if
कब याद में तेरा साथ नहीं
When I don’t remember you
कब हाथ में तेरा हाथ नहीं
when your hand is not in your hand
अगर बाज़ी इश्क़ की बाज़ी हैं
If the baazi is the baazi of love
जो चाहो लगा दो डर कैसा
Do whatever you want, how are you afraid?
अगर बाज़ी इश्क़ की बाज़ी हैं
If the baazi is the baazi of love
जो चाहो लगा दो डर कैसा
Do whatever you want, how are you afraid?
अगर जीत गए तो क्या कहना
what to say if you win
अगर जीत गए तो क्या कहना
what to say if you win
हारे भी तो बाज़ी मात नहीं
Don’t win even if you lose
अगर जीत गए तो क्या कहना
what to say if you win
हारे भी तो बाज़ी मात नहीं
Don’t win even if you lose
कब याद में तेरा साथ नहीं
When I don’t remember you
कब हाथ में तेरा हाथ नहीं
when your hand is not in your hand
सात सुकर के अपने रातो में
In my night of seven pleasures
अब हिज़र की कोई रात नहीं
no more hijar night

Leave a Comment