Yeh Kaisa Insaf Lyrics (Title Song) [English Translation]

Yeh Kaisa Insaf Lyrics: The latest song ‘Yeh Kaisa Insaaf’ from the Bollywood movie ‘Yeh Kaisa Insaf’ in the voice of Hemlata & Bhushan Mehta. The song lyrics were written by Ravindra Jain while the music is composed by Ravindra Jain. It was released in 1980 on behalf of Saregama. This film is directed by Dasari Narayana Rao.The Music Video Features Vinod Mehra, Shabana Azmi, and Sarika.Artist: Hemlata & Bhushan MehtaLyrics: Ravindra JainComposed: Ravindra JainMovie/Album: Yeh Kaisa InsafLength: 4:58Released: 1980Label: Saregama

Yeh Kaisa Insaf Lyrics

राम राम हो राम सिया का अन्तर करे विलाप
मुख से न बोले
ये कैसा इंसाफये कैसा इंसाफ राम ये कैसा इंसाफ
ये कैसा इंसाफ राम ये कैसा इंसाफ
अग्नि परीक्षा लेकर भी अग्नि परीक्षा लेकर भी
सीता को किया न माफ़ किया न माफ् राम
ये कैसा इंसाफ राम ये कैसा इंसाफउसके कज से तुम तो न थे अनजाने
मन में न था पाप् ोरो की बस मने
पति सेवा में लीं रही न दिन देखा न रात
पति सेवा में लीं रही न दिन देखा न रात
उससे साथ किसके भरोसे चल दिए छोड के हाथ बोलो
ये कैसा इंसाफ
ये कैसा इंसाफ राम ये कैसा इंसाफ
अग्नि परीक्षा लेकर भी अग्नि परीक्षा लेकर भी
सीता को न माफ़ किया न माफ् राम
ये कैसा इंसाफ राम ये कैसा इंसाफराम बिना आराम न ए मन को
मन रोये मन ही समझाए मन को
वो किससे क्या बोले जिसकी रूठी है तक़दीर
वो किससे क्या बोले जिसकी रूठी है तक़दीर
दुःख सह सह के चुप रह रह के जीवन बन गया पर
बोलो ये कैसा इंसाफये कैसा इंसाफ राम ये कैसा इंसाफ
अग्नि परीक्षा लेकर भी अग्नि परीक्षा लेकर भी
सीता को किया न माफ़ किया न माफ् राम
ये कैसा इंसाफ राम ये कैसा इंसाफ
ये कैसा इंसाफ

Yeh Kaisa Insaf Lyrics English Translation

राम राम हो राम सिया का अन्तर करे विलाप
Lament for the difference between Ram Ram Ho Ram Siya
मुख से न बोले
do not speak
ये कैसा इंसाफ
what kind of justice is this
ये कैसा इंसाफ राम ये कैसा इंसाफ
What kind of justice is this Ram, what kind of justice is this
ये कैसा इंसाफ राम ये कैसा इंसाफ
What kind of justice is this Ram, what kind of justice is this
अग्नि परीक्षा लेकर भी अग्नि परीक्षा लेकर भी
Even after taking the test of fire, even after taking the test of fire
सीता को किया न माफ़ किया न माफ् राम
Did neither forgive Sita nor forgive Ram
ये कैसा इंसाफ राम ये कैसा इंसाफ
What kind of justice is this Ram, what kind of justice is this
उसके कज से तुम तो न थे अनजाने
you were not unaware of his debt
मन में न था पाप् ोरो की बस मने
I didn’t have sins in my mind
पति सेवा में लीं रही न दिन देखा न रात
Husband was engaged in service neither day nor night
पति सेवा में लीं रही न दिन देखा न रात
Husband was engaged in service neither day nor night
उससे साथ किसके भरोसे चल दिए छोड के हाथ बोलो
On whom did you trust with him, leave your hands and speak
ये कैसा इंसाफ
what kind of justice is this
ये कैसा इंसाफ राम ये कैसा इंसाफ
What kind of justice is this Ram, what kind of justice is this
अग्नि परीक्षा लेकर भी अग्नि परीक्षा लेकर भी
Even after taking the test of fire, even after taking the test of fire
सीता को न माफ़ किया न माफ् राम
neither forgave Sita nor forgave Ram
ये कैसा इंसाफ राम ये कैसा इंसाफ
What kind of justice is this Ram, what kind of justice is this
राम बिना आराम न ए मन को
Without Ram, there is no rest for the mind
मन रोये मन ही समझाए मन को
The mind cries, the mind explains to the mind
वो किससे क्या बोले जिसकी रूठी है तक़दीर
What did he say to whom whose fate is angry
वो किससे क्या बोले जिसकी रूठी है तक़दीर
What did he say to whom whose fate is angry
दुःख सह सह के चुप रह रह के जीवन बन गया पर
Life has become by remaining silent while bearing sorrows, but
बोलो ये कैसा इंसाफ
Tell me what kind of justice is this
ये कैसा इंसाफ राम ये कैसा इंसाफ
What kind of justice is this Ram, what kind of justice is this
अग्नि परीक्षा लेकर भी अग्नि परीक्षा लेकर भी
Even after taking the test of fire, even after taking the test of fire
सीता को किया न माफ़ किया न माफ् राम
Did neither forgive Sita nor forgive Ram
ये कैसा इंसाफ राम ये कैसा इंसाफ
What kind of justice is this Ram, what kind of justice is this
ये कैसा इंसाफ
what kind of justice is this

Leave a Comment